इंश्योरेंस में सरेंडर वैल्यू क्या होता है?

क्या आपने अभी कोई जीवन बीमा पॉलिसी खरीदी है? लेकिन वो इंश्योरेंस पॉलिसी आपकी जरूरत के अनुसार नही है? अब क्या आप अपनी पॉलिसी को बंद करने का विचार कर रहे है?

आप अपनी इंश्योरेंस पॉलिसी को बीमा कंपनी को सरेंडर कर सकते हो। आप पॉलिसी अवधि के पहले अपनी पॉलिसी को सरेंडर करके सरेंडर वैल्यू प्राप्त कर सकते हैं।

यदि कोई बीमाधारक अपनी पॉलिसी को परिपक्वता अवधि से पहले अपने बीमा प्लान को समाप्त या बंद करने का फैसला करता है, तो बीमा कंपनी द्वारा बीमाधारक को दी जाने वाली राशि को सरेंडर वैल्यू कहा जाता हैं।

यदि बीमाधारक अपने बीमा को Mid term में सरेंडर करता है तो, बीमाधारक को उस राशि का भुगतान किया जाएगा जो बचत और आय के लिए आवंटित की गई है। इस राशि से एक सरेंडर शुल्क काटा जाता है।

यह सरेंडर शुल्क अलग अलग बीमा के लिए अलग अलग होता है। यदि बीमाधारक 5 साल बाद समाप्त करता है तो, IRDAI के निर्देशानुसार बीमा कंपनी कोई सरेंडर शुल्क नहीं लगा सकती है।

सरेंडर वैल्यू के बारे में और जानने क्लिक करे?

start reading