इंश्योरेंस में सम इंश्योर्ड क्या होता है? | Sum Insured in hindi

बीमा शब्दावली काफी कठिन हो सकती है। लेकिन अलग अलग बीमा की शर्तों को समझना जरुरी होता है, क्योंकि उनका आपके बीमा पर प्रभाव पड़ता है। सबसे महत्वपूर्ण बीमा शब्दावली में दो शब्द सम इंश्योर्ड और सम एश्योर्ड हैं।हालाँकि दोनों शब्द एक जैसे लगते हैं, सिद्धांत रूप में, दोनों का अलग-अलग अर्थ हैं।

आइये जानते है की सम इंश्योर्ड (sum insured) क्या होता है? सम इंश्योर्ड की गणना कैसे करें? और आपके अपने बीमा के लिए सही सम इंश्योर्ड कैसे चुने?

सम इंश्योर्ड क्या है? (What is Sum Insured)

Sum Insured (बीमा राशि) क्षतिपूर्ति के सिद्धांत पर आधारित है जिसका उद्देश्य नुकसान की सही भरपाई करना है। यह एक ऐसी बीमा राशि होती है, को नुकसान, हानि, या चोट के लिए मुआवजा या कवर प्रदान करती है।

यदि आपका जीवन बीमा है तो मुआवजा प्रदान किया जाता हैं। और लाइफ इंश्योरेंस के अलावा अन्य बीमा जैसे स्वास्थ्य बीमा, वाहन बीमा, तथा होम इंश्योरेंस में नुकसान होने पर कवर मिलता है।

मूल बीमा राशि (Sum Insured) का उद्देश्य नुकसान की सही भरपाई करना होता है ना कि कोई मौद्रिक लाभ प्रदान करना।

Sum Insured meaning in hindi – सम इंश्योर्ड का अर्थ बीमाकृत राशि होता है। जिसे बीमा राशि भी कहा जाता है।

उदाहरण:

मानाकी आपने 2 लाख बेसिक बीमा राशि (Sum Insured) वाली हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदी है। और आप किसी बीमारी के चलते हॉस्पिटल में भर्ती हो जाते हो। तब यदि आपका हॉस्पिटल बिल एक लाख रुपए है तो इस स्थिति में बीमा कंपनी आपके बिल का भुगतान करती हैं।

यदि आपका हॉस्पिटल बिल 3 लाख रुपए है तब इस स्थिति में बीमा कंपनी आपके बिलों का दो लाख तक का भुगतान करती है। और रहा बिल का भुगतान आप स्वयं को करना पड़ता हैं।

सम इंश्योर्ड की गणना कैसे करें? (How to Calculate Sum Insured)

किसी भी बीमा पॉलिसी को खरीदते तथा बेसिक सम इंश्योर्ड चुनते समय आपको कई बातों का ध्यान रखना चाहिए। आपको भविष्य की बढ़ती महंगाई दर को ध्यान में रखकर सही बीमा राशि का चुनाव करना चाहिए, जो आपके बजट अनुकूल हो।

  • आपका sum Insured यानी बीमा राशि आपकी सभी आर्थिक जरूरतों को पूरा करने के लिए पर्याप्त होना चाहिए। जैसे बच्चो की शिक्षा, शादी, ओर आपके परिवार के खर्च को बनाए रखना आदि।
  • यदि आप अपने लिए कोई हेल्थ इंश्योरेंस खरीदने की योजना बना रहे हैं तो आपको ऐसी बीमा राशि (Sum Insured) का चुनाव करें। जो आपको किसी आपातकालिक स्थिति में हॉस्पिटल खर्च को कवर करने के लिए पर्याप्त हो।
  • आपकी पॉलिसी बीमा राशि ऐसी होनी चाहिए जो आपकी मृत्यु की स्थिति में आपके परिवार की वित्तीय देनदारियों के भुगतान के लिए पर्याप्त हो।
  • यदि आप फैमिली फ्लोटर प्लान खरीद रहे हो तो आपकी ऐसे sum Insured का चुनाव करें जो आपके ऊपर आश्रित लोग जैसे आपका जीवन साथी, बच्चे, और माता पिता आदि को आर्थिक रूप से सुरक्षित रखने में मददगार हो।
  • आपकी उम्र आपकी बीमा राशि तय करती है। यदि आप जवान या युवा है तो उच्च बीमा राशि का चुनाव करें। क्योंकि आपका आगे जीवन लंबा है।
  • यदि आप किसी ऐसेट का बीमा करवा रहे हो तो आपको बीमा किए जा रहे ऐसेट की कीमत पर विचार करके लेना चाहिए।

सही बीमा राशि (Sum Insured) का चयन क्यों करना चाहिए?

अपने पॉलिसी के साथ सही बीमा राशि चुनना बहुत जरूरी है। उच्च बीमा राशि आपको किसी दुर्घटना में और आपातकालीन स्थिति में आपके पास पड़ी राशि को बढ़ा देती है। जिससे आप अपनी बचत को बचाकर रख सकते है।

हॉस्पिटल लागत और इलाज खर्च को मैनेज करना आपके लिए कम तनावपूर्ण हो सकता हैं।

पारिवारिक हेल्थ इंश्योरेंस वाले लोगों के लिए उच्च बीमा राशि जरूरी है। क्योंकि यह बीमा राशि कई लोगों के साथ सांझा होती है। और इसमें आप एक से अधिक दावे कर सकते है।

उच्च बीमा राशि आपके लिए यह सुनिश्चित करती है की सभी को पर्याप्त रूप से कवर किया जाए। जिन पर आपकी बीमा राशि निर्भर करती हैं।

शेयर करें:

1 thought on “इंश्योरेंस में सम इंश्योर्ड क्या होता है? | Sum Insured in hindi”

Leave a Comment